इंडियन रीडरशिप सर्वे (IRS) की कुछ ख़ास बातें

अख़बारों के पठन-पाठन पर इस साल के पहले तीन महीनों के बारे में इंडियन रीडरशिप सर्वे (IRS) के आँकड़े आए हैं. इस सर्वे की कुछ ख़ास बातें इस प्रकार हैं-

– 2017 में अख़बारों के पाठक 40.70 करोड़ थे, जो इस साल के पहले तीन महीनों में 42.50 करोड़ हो गए.

– हिंदी अख़बार 3.9, अन्य भारतीय भाषाओं (जिन्हें क्षेत्रीय भाषाएँ कहा जाता है) के अख़बार 5.7 तथा अंग्रेज़ी के अख़बार 10.7 फ़ीसदी की दर से बढ़े हैं.

– हिंदी अख़बारों के 18.60 करोड़, क्षेत्रीय भाषाओं के अख़बारों के 21,10 करोड़ तथा अंग्रेज़ी के 3.10 करोड़ पाठक हैं.

– पत्रिकाएँ 8.70 करोड़ लोग पढ़ते हैं. इसमें 90 लाख की बढ़त है.news.jpg

– डिजिटल में उछाल 19 से 24 फ़ीसदी है.

– पूरी रिपोर्ट देखें, तो एक दिलचस्प मामला है. टीवी, रेडियो और पत्रिका में वृद्धि है, पर अख़बार और सिनेमा में मामला सपाट है.

– लेकिन मीडिया उपभोग में कुल मिलाकर बढ़ोतरी के कारण अख़बार और सिनेमा में उपभोक्ताओं की संख्या बढ़ी है.

– सबसे मज़ेदार यह है कि ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट की पहुंच शहरी इलाक़ों से क़रीब आधी है, पर संख्या के हिसाब से ग्रामीण भारत में उपभोक्ता 50 फ़ीसदी हैं.

– यह रिपोर्ट 2017 के आख़िरी तीन तिमाहियों और इस साल की पहली तिमाही के तुलनात्मक औसत पर आधारित है.

– इस ताज़ा सर्वे में 324,286 परिवारों का अध्ययन हुआ है.

– इस रिपोर्ट को मीडिया रिसर्च यूज़र्स काउंसिल (MRUC) ने जारी किया है. पूरी रिपोर्ट यहाँ पढ़ी जा सकती है.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s